आज हम बात करने जा रहे हे Cyber Security Frontline के बारे में 

साइबर अपराध परिदृश्य में बदलाव का गवाह बन रहा है, क्योंकि अधिक से अधिक संगठन और व्यक्ति अपना संचालन ऑनलाइन कर रहे हैं।

वित्तीय प्रौद्योगिकी के बढ़ते केंद्र भारत में साइबर अपराध की घटनाओं में काफी वृद्धि देखी गई है।

देश में साइबर अपराध की शिकायतों की संख्या 200% बढ़ गई, जिसके परिणामस्वरूप ₹168.5 करोड़ की वित्तीय हानि हुई।

फिनटेक क्षेत्र में आईसीबीसी हमले साइबर अपराधों को बढ़ावा देते हैं, जो कम होती सुरक्षा को उजागर करते हैं।

फिनटेक कंपनियां अब एक महत्वपूर्ण विकास एआई-संचालित धोखाधड़ी का पता लगाने वाली प्रणालियों का उपयोग कर रही हैं।

फिनटेक कंपनियाँ अब कृत्रिम बुद्धिमत्ता (एआई) का तेजी से उपयोग करके रोजमर्रा के कार्यों को प्रबंधित कर रही हैं।

 सरकार और विभिन्न संगठन साथ मिलकर भारत के साइबर सुरक्षा ढांचे को और मजबूत बनाने के लिए प्रयासरत हैं।

भविष्य में, एकीकृत साइबर सुरक्षा प्रणालियों में कृत्रिम बुद्धिमत्ता और मशीन लर्निंग की भूमिका और महत्व बढ़ जाएगा।

इस आर्टिकल को पूरा डिटेल्स में पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे